Malware से कैसे बचें ? How to Prevent Malware

Malware से कैसे बचें - How to Prevent Malware

Malware इतना खतरनाक है कि यदि यह एक बार आपके Computer में आ गया तो आपके Computer की सारी फाइलों का शॉर्टकट बना देता है और आपके Computer की सारी फाइलों को चोरी करता रहता है और अपने मालिक के पास भेजता रहता है

यदि आप जानना चाहते हैं कि Malware से कैसे बचें और Malware को अपने Computer में आने से कैसे रोके तो नीचे कुछ टिप्स दिए गए हैं जिनकी मदद से आप अपने Computer में Malware आने से रोक सकते हैं और खुद को सुरक्षित रख सकते हैं 

1. एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें

यदि आप अपने Computer में इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और इंटरनेट से पायरेटेड वेबसाइट के जरिए कोई  मूवी या फिर कोई सॉफ्टवेयर डाउनलोड करते हैं तो उस फाइल में Malware छुपा हो सकता है

और आपको उस फाइल को ओपन करने से पहले आपको उस फाइल को चेक करना चाहिए कि कहीं इसमें Malware तो नहीं है इसके लिए सबसे पहले आपको उस फाइल को एंटीवायरस सॉफ्टवेयर के जरिए स्कैन करना चाहिए

यदि आपके Computer में बहुत ही ज्यादा इंपोर्टेंट डाटा है तो आपको इंटरनेट से कोई भी मूवी या फिर कोई भी पायरेटेड वेबसाइट से किसी भी सॉफ्टवेयर को निशुल्क में नहीं डाउनलोड करना है इससे आप खतरे में पड़ सकते हैं और आपकी इंपोर्टेंट डाटा भी खतरे में पड़ सकती है

यदि आपके Computer में एंटीवायरस है तो बहुत ही कम चांस होता है कि आपके Computer में Malware चला आए क्योंकि यदि आपके Computer में एंटीवायरस इंस्टॉल है तो वह एंटीवायरस इंटरनेट से डाउनलोड होने वाली सारी Malware फाइलों या फिर सारी सॉफ्टवेयर को ब्लॉक कर देता है और आप को सुरक्षित रखता है 

एंटीवायरस आपके Computer को सुरक्षित रखने में सबसे अहम भूमिका निभाता है क्योंकि एंटीवायरस Computer की सारी वायरस को ब्लॉक कर देता है यदि आपके अनजाने में कोई इंटरनेट से फाइल डाउनलोड हो गई है और वह Malware से ग्रसित है तो एंटीवायरस उसे तुरंत ही ब्लॉक कर देगा 

2. ऑपरेटिंग सिस्टम को हमेशा अपडेट रखें

ऑपरेटिंग सिस्टम को हमेशा अपडेट रखने से ऑपरेटिंग सिस्टम की जितनी भी पिछली कमियां रहती है उसको दूर करके नई सिक्योरिटी पैच मिल जाती है जिसकी वजह से कोई भी ऑपरेटिंग सिस्टम को अटैक नहीं कर पाता है

यदि आप अपने Computer की ऑपरेटिंग सिस्टम को अपडेट नहीं करते हैं तो Malware आपके Computer में आ सकता है

क्योंकि जितने भी हैकर होते हैं वह ऑपरेटिंग सिस्टम की कमियों को ढूंढते हैं और उस कमी के जरिए Computer में वायरस भेजते हैं यदि आपका Computer हमेशा अप टू डेट रहेगा तो कोई भी हैकर आपके Computer की कमियों को नहीं ढूंढ पाएगा और ना ही आपके Computer में कोई भी वायरस डाल पाएगा 

यदि आप माइक्रोसॉफ्ट का विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम यूज करते हैं तब भी आपको अपने ऑपरेटिंग सिस्टम को अपडेट करनी है और यदि आप एप्पल का मैक ओएस यूज करते हैं

तब भी आपको अपने ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट करनी है क्योंकि यदि एक बार आप का ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट हो जाता है तो पिछली जितने भी उस ऑपरेटिंग सिस्टम की कमियां रहती हैं उनको दूर  कर दिया जाता है 

3. अननोन ईमेल पर क्लिक न करें

यदि आपके पास कोई अननोन ईमेल आता है और आपको नहीं पता कि वह ईमेल कहां से आया है और ईमेल में क्या दिया गया है यदि आपको थोड़ा भी शक होता है उस ईमेल पर तो उसको आपको नहीं ओपन करना चाहिए 

यदि आपके पास कोई ईमेल आता है और उसमें कोई लिंक दिया हुआ होता है और आपसे यह कहा जाता है कि इस लिंक पर क्लिक करेंगे तो आप एक प्राइज मनी जीत सकते हैं तो आपको ऐसे में ध्यान रखना होगा कि आपको उस लिंक पर नहीं क्लिक करना है 

क्योंकि यदि आप उस लिंक पर क्लिक कर देंगे तो हो सकता है कि उस लिंक में कुछ ऐसा Malware छुपा हो जो ऑटोमेटिक आपके Computer में डाउनलोड हो जाए और आपके Computer की सारी फाइलों को इंक्रिप्ट कर दे या फिर सारी फाइलों की चोरी करता रहे 

अननोन ई-मेल से बचने के लिए आपको अपनी ईमेल आईडी यानी कि आपको अपनी पर्सनल ईमेल आईडी किसी भी वेबसाइट या फिर किसी भी सोशल मीडिया पर नहीं देनी चाहिए क्योंकि यदि किसी भी हैकर के पास आप की इमेल नहीं होगी तो आपको ईमेल नहीं भेज पाएगा ऐसे में आप खुद को सुरक्षित रख पाएंगे

4. किसी भी अनजान लिंक पर नहीं क्लिक करना चाहिए  

इस तकनीकी के जरिए ना जाने कितने लोग हैंकर का शिकार हुए हैं लोग लालच में आकर किसी भी लिंक पर क्लिक कर देते हैं और उनके Computer में ऑटोमेटिक Malware ट्रोजन डाउनलोड हो जाता है जिसकी वजह से उनको बहुत ही ज्यादा कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है 

यदि आपके पास कोई भी लिंक आता है किसी भी सोशल मीडिया एप्लीकेशन के जरिए तो आपको उस लिंक पर क्लिक करने से पहले कम से कम 10 बार सोचना चाहिए 

आपको यह पता लगा लेना चाहिए कि यह लिंक खतरनाक दुनिया का रास्ता तो नहीं है यानी कि उस लिंक पर क्लिक करते ही कहीं आप ऐसी वेबसाइट पर ना पहुंच जाए जो Malware से भरी हुई है और यदि ऐसा होगा तो आपके Computer में Malware का आना निश्चित है

कई लोग पायरेटेड वेबसाइट से मूवी डाउनलोड करने के शौकीन होते हैं और उनको सोशल मीडिया पर एक लिंक दिखाई देता है कि इस लिंक पर क्लिक करते ही आपकी मनपसंद मूवी डाउनलोड हो जाएगी तो लोग लालच में आकर उस लिंक पर क्लिक कर देते हैं

और जैसे ही वह उस लिंक पर क्लिक करते हैं तो ऑटोमेटिक उनके फोन में या फिर Computer में वायरस चला आता है और उनको पता भी नहीं चलता और जब तक उनको पता चलता है तब तक बहुत देर हो चुकी होती है 

आपको कभी भी किसी भी अननोन वेबसाइट पर भरोसा नहीं करना चाहिए क्योंकि हो सकता है उस वेबसाइट पर विजिट करते ही आप खतरे में पड़ जाए तो इसलिए आपको किसी भी अननोन वेबसाइट पर भरोसा नहीं करना चाहिए 

5. पॉप-अप विंडो पर क्लिक करने से बचें

इंटरनेट का इस्तेमाल करते समय यदि आपको कोई पॉप-अप विंडो दिखाई देता है और आपको उस पर क्लिक करने के लिए कहा जाता है तो आपको उस पर कभी भी क्लिक नहीं करना चाहिए आपको एक पॉप-अप विंडो पर तभी ही क्लिक करना चाहिए जब आपको पता हो कि वह पॉप-अप विंडो किस बारे में है

क्योंकि कई बार क्या होता है कि इंटरनेट का इस्तेमाल करते समय अचानक से आपको एक पॉप-अप विंडो दिखाई देता है और उस पर कुछ ऐसा इमेज छपा हुआ होता है कि उसे देखने के बाद तुरंत ही उस पर क्लिक करने का मन करता है

यदि आप का भी मन करता है तो आपको अपने मन को बदलना पड़ेगा क्योंकि उस पर क्लिक करते ही आप ऐसी वेबसाइट पर पहुंच सकते हैं जो वेबसाइट Malware और वायरस से भरी हुई है

6. पायरेटेड वेबसाइट पर विजिट ना करें

मैं पायरेटेड वेबसाइट का बार-बार जिक्र इसलिए कर रहा हूं क्योंकि जितने भी वायरस होते हैं वह ज्यादातर पायरेटेड वेबसाइट के जरिए ही Computer में आते हैं इसलिए आपको जितना भी हो सके आपको पायरेटेड वेबसाइट से दूर ही रहना चाहिए और ना ही आपको किसी भी पायरेटेड वेबसाइट से कोई भी मूवी या फिर कोई भी फाइल डाउनलोड करनी चाहिए 

क्योंकि जैसे आप किसी भी पायरेटेड वेबसाइट से कोई भी मूवी या फिर कोई भी फाइल डाउनलोड करते हैं तो उस फाइल के जरिए आपके Computer में Malware चला आता है और ऑटोमेटिक ही आपके Computer में इंस्टॉल हो जाता है

आपको पता भी नहीं चलता और जब तक आप को पता होता है तब तक बहुत देर हो चुकी होती है क्योंकि तब तक आपके Computer की सारी फाइलें चोरी हो चुकी होती हैं और उस हैकर के पास चली जाती है जिसने भी आपके Computer में उस वायरस को डाला होता है

निष्कर्ष

मैं आशा करता हूं कि आप लोगों को यह आर्टिकल पसंद आया होगा यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इस आर्टिकल को आप अपने दोस्तों और आप अपने परिजनों के साथ शेयर कर सकते हैं ताकि उनको भी यह पता चल सके कि  मैलवेयर Software क्या होता है और इससे कैसे बचा जा सकता है 

पढ़ें लोगों का पसंदीदा आर्टिकल

Ransomware Decryption Tools क्या है ? यह कैसे काम करता है।
Ransomware Attack Phishing के जरिये कैसे किया जाता है ?
Ransomware Attack क्या है ? इससे क्या नुकसान हो सकता है।
RANSOMWARE क्या है ? RANSOMWARE से होने वाले नुकसान

1 टिप्पणियाँ

अपनी प्रतिक्रिया दें।

अपनी टिप्पणी यहाँ दर्ज करें ...
अपना नाम यहा दर्ज करें...